Home मूवी रिव्यू

102 Not Out Review: जबरदस्‍त एक्‍ट‍िंग और जिंदादिल कहानी

Published:
SHARE
102 नॉट आउट की समीक्षा

102 नॉट आउट

रेटिंग:

3.5/5

कास्‍ट:

अमिताभ बच्चन, ऋषि कपूर, जिमित त्रिवेदी

डायरेक्‍टर:

उमेश शुक्‍ला

समय:

1 घंटे 45 मिनट

जॉनर:

कॉमेडी, ड्रामा

लैंग्‍वेज:

हिंदी

समीक्षक:

रचित गुप्‍ता

1/8कहानी

फिल्‍म की कहानी 102 साल के पिता दत्तात्रेय वखारिया (अमिताभ बच्‍चन) और उनके बेटे 75 साल के बेटे बाबूलाल वखारिया (ऋष‍ि कपूर) की है। कहानी आम जीवन से थोड़ी उलट है। यहां पिता अपने बेटे को ओल्‍ड एज होम भेजना चाहता है। ऐसा इसलिए कि पिता को लगता है कि उसका बेटा जीवन के प्रति लगभग उदासीन हो गया है। दत्तात्रेय लंबे समय जीवित रहने के वर्ल्‍ड रिकॉर्ड को तोड़ना चाहते हैं और उन्‍हें लगता है कि बेटा बाबूलाल उनके इस काम में बाधा है।

2/8समीक्षा

102 Not Out Movie Review in Hindi

‘102 नॉट आउट’ फिल्‍म का कॉन्‍सेप्‍ट नया और मजेदार है। हालांकि यह फिल्‍म भी बाकी हिंदी फिल्‍मों की तरह रिश्‍तों के इर्द-गिर्द बुनी गई है, लेकिन कहानी में 102 साल और 75 साल के आदमी के बीच गजब की बॉन्‍ड‍िंग देखने को मिलती है। फिल्‍म एक हवा की तरह बहती है। यह कभी भी जटिल नहीं लगती। तीन मुख्‍य पात्र दत्तात्रेय, बाबूलाल और धीरू (जिमित त्रिवेदी) के द्वारा ही पूरी कहानी कही जाती है।

3/8बगैर ट्विस्‍ट भी बांधे रखती है फिल्‍म

102 Not Out Movie Review in Hindi

फिल्‍म की शूटिंग मुंबई के अलग-अलग हिस्‍सों में हुई है, लेकिन इसका अध‍िकतर हिस्‍सा वखारिया के घर के अंदर ही शूट किया गया है। यह कहानी की मांग है। लेकिन डायरेक्‍टर उमेश शुक्‍ला ने इस बाध्‍यता को अपनी ताकत बनाने का काम किया है। फिल्‍म न तो कभी बहुत रोमांचित करती है, न ही अचानक कहानी में कोई मोड़ आता है। बावजूद इसके यह दर्शकों को बांधे रखती है।

4/8बच्‍चन और कपूर की दमदार एक्‍ट‍िंग

102 Not Out Movie Review in Hindi

फिल्‍म का मुख्‍य आकर्षण अमिताभ बच्‍चन और ऋष‍ि कपूर का अभिनय है। दोनों जबरदस्‍त एक्‍टर्स हैं और उनकी कॉमिक टाइमिंग भी बेहतरीन है। ऋषि कपूर ने फिल्‍म में एक अजीब या सनकी बूढ़े आदमी का किरदार निभाया है, जबकि अमिताभ बच्चन पर आपको प्‍यार आता है। 102 की उम्र में वह 20 साल युवा की तरह उत्‍साहित हैं। कपूर असल जिंदगी में 65 साल के हैं और बच्‍चन 75 साल के। दोनों ने साबित किया है वो एक्‍ट‍िंग की पाठशाला नहीं, विश्‍वविद्यालय है। दोनों की आपसी कैमिस्‍ट्री भी दिल जीत लेती है। युवा एक्‍टर जिमित दोनों दिग्‍गज कलाकारों के कंधे से कंधा मिलाकर आगे बढ़ते हैं।

5/8सुकून देने वाली फिल्‍म

102 Not Out Movie Review in Hindi

‘102 नॉट आउट’ के हर फ्रेम को डायरेक्‍टर उमेश शुक्‍ला ने करीने से संजोया है। प्रोडक्‍शन डिजाइन, लुक, विजुअलस सबकुछ ठंडे हवा के झोंके की तरह आनंदित करता है। फिल्‍म गुजराती नाटक से इंस्‍पायर्ड है। सौम्‍या जोशी ने ही वह नाटक भी लिखा है।

6/8स्‍क्रीनप्‍ले में खलती है ये कमी

Watch 102 Not Out Trailer Starring Amitabh Bachchan Rishi Kapoor News in Hindi

यह फिल्म नाटकीय रूप से कुछ सीन में भावुक हो जाती है। खासकर उन दो दृश्यों में जहां अमिताभ बच्चन एक प्रभावशाली मोनोलॉग के साथ पर्दे पर आते हैं। हालांकि, दत्तात्रय के किरदार और डिनर टेबल पर बातचीत के लिहाज से स्‍थ‍िति थोड़ी अजीब सी लगती है। हां, फिल्‍म के स्‍क्रीनप्‍ले में कई जगहों पर गहराई की कमी खलती है। फिल्‍म थोड़ी लंबी भी लगती है।

7/8परिवार के साथ देखने जाएं, अच्‍छा लगेगा

102 Not Out Movie Review in Hindi

‘102 नॉट आउट’ जैसी फिल्‍म को आप परिवार के साथ एंजॉय कर सकते हैं। फिल्‍म में ऐसे कई सीन हैं, जहां दर्शक भावुक होते हैं। यह छुट्टी के दिन तपती धूप में ठंडे पानी की प्‍यास की तरह है। फिल्‍म आपको खुश करती है, जिंदगी जीने का जज्‍बा देती है। और हां, वो कहते हैं न उम्र तो महज एक संख्‍या है।

8/8यहां देख‍िए, ‘102 नॉट आउट’ का ट्रेलर