Home बॉलीवुड

भारत-PAK का राग छोड़िए, इन कलाकारों के बारे में जानिए

Updated: Jun 20, 2017 09:26 am
SHARE

1/9ना सरहद, ना देश… सिर्फ कला थी जब

fawad khan photoshoot

आईसीसी चैम्‍प‍ियंस ट्रॉफी भारत पाकिस्तान से हार गया। दोनों देशों के बीच जब भी मैच होता है तो युद्ध वाला माहौल बन जाता है। खेल और कला पसंद सबको है, लेकिन इसकी भावना से दोनों मुल्‍कों के लोग महरूम हैं। पंछी, नदियां और पवन के झोंको की तरह कला और खेल भी किसी सरहद के रोके नहीं रुकती। विभाजन से पहले भी एक भावना थी। तब अपना-पराया और बाप-बेटे जैसा कुछ नहीं था। राज कपूर, सुनील दत्त, कादर खान इन सबका जन्म तब भारत और आज के पाकिस्तान में ही हुआ है।

2/9बलराज साहनी

balraj sahni

‘दो बीघा जमीन’ और ‘वक्त’ जैसी फिल्मों में काम कर चुके बलराज साहनी 1 मई 1913 के दिन पाकिस्तान के रावलपिंडी में हुआ था। भारत-पाक विभाजन को उन्होंने बहुत करीब से देखा था। इसलिए एम एस सथ्यू की फिल्म ‘गर्म हवा’ में उस दर्द को उन्‍होंने बखूबी बयां किया। लेखक भीष्म साहनी उनके भाई थे। 13 अप्रैल 1973 के दिन मुंबई में बलराज साहब का निधन हो गया।

3/9रमेश सिप्पी

ramesh sippy

‘शोले’ फिल्म के डायरेक्टर रमेशा सिप्पी 23 जनवरी 1947 के दिन कराची में पैदा हुए। उन्होंने ‘शक्ति’, ‘शान’, ‘सीता और गीता’ जैसी फिल्मों का निर्देशन किया है। रमेश सिप्पी डायरेक्टर के साथ-साथ प्रोड्यूसर भी हैं।

4/9अमजद खान

gabbar singh

अमजद खान का वास्ता पेशावर से है। 130 भारतीय फिल्मों में काम कर चुके अमजद को दुनिया ‘गब्बर’ के नाम से भी जानती है। ‘शोले’, ‘मुकद्दर का सिकंदर’, ‘याराना’, ‘परवरिश’ और ‘सुहाग’ अमजद की बेहतरीन फिल्मों में से हैं। 27 जुलाई 1992 को मुंबई में खान साहब इस दुनिया को अलविदा कह गए।

5/9साधना शिवदासानी

sadna shivdasni

‘वो कौन थी’, ‘मेरा साया’ और ‘वक्त’ जैसी फिल्मों में काम कर चुकी साधना का जन्म भी कराची में हुआ था। वो 2 सितंबर 1941 के दिन पैदा हुई थीं। 25 दिसंबर 2015 के दिन मुंबई में उनका निधन हो गया।

6/9प्रेम नाथ

prem nath

जो पुरानी फिल्मों से लगाव रखते हैं या जो दिल से सिनेमा देखते हैं। वो प्रेम नाथ को अच्छी तरह से जानते होंगे। उनकी आवाज के लोग कायल थे। एक रौब था उसमें। 21 नवंबर 1926 में इनका जन्म पेशावर में हुआ था। ‘हम दोनों’, ‘देशप्रेमी’, ‘क्रोधी’ और ‘बॉबी’ इनकी बेहतरीन फिल्मों में से हैं। प्रेम नाथ का इंतकाल 3 नवंबर 1992 के दिन मुंबई में हुआ। उन्होंने ‘सत श्री अकाल’ जैसी पंजाबी फिल्मों में भी काम किया था।

7/9मैक मोहन

mac mohan

सांबा, पहचान ही गए होंगे आप? इनका असली नाम मोहन मैकजनी था। लेकिन दुनिया मैक मोहन के नाम से जानती थी। वो क्रिकेटर बनने आए थे, लेकिन फिल्मों में चल गए। 218 फिल्मों में मैक ने काम किया था। छोटे-मोटे रोल पर बड़ी सटीक एक्टिंग। जन्म पाकिस्तान के सिंध में 24 अप्रैल 1938 के दिन हुआ था। ‘डॉन’, ‘कर्ज’, ‘सत्ते पे सत्ता’, ‘शान’ में मैक ने काम किया है। 10 मई 2010 के दिन इनकी मृत्यु हो गई थी।

8/9विनोद खन्ना

Veteran Actor Vinod Khanna Dead, He was 70 News in Hindi

विनोद खन्ना साहब का जन्म भी पेशावर में हुआ था। 6 अक्तूबर 1946 के दिन वो वहां जन्मे थे। ‘हाथ की सफाई’, ‘हेरा-फेरी’, ‘मुकद्दर का सिकंदर’ और ‘कुर्बानी’ जैसी फिल्म में काम कर चुके विनोद साहब हाल ही हमें अलविदा कह गए। मुंबई में 27 अप्रैल 2017 के दिन वो चल बसे। अपने अंतिम दिनों में उन्होंने पाकिस्तान जाकर अपना पुश्तैनी घर देखने की इच्छा भी जताई थी। पर अफसोस की वो जा ना सके।

9/9जब सरहदें नहीं थी भाई

10 Famous Muslim Bollywood Actors Who Adopted Hindu Screen Names

जिस दौर में ये सितारे पैदा हुए थे। उस दौर में भारत-पाक एक ही था। आज माहौल खराब होता जा रहा है। कट्टरता दोनों तरफ ही है। सीमा पर हालात खराब होते हैं तो कलाकारों को अपने वतन लौटना पड़ता है। हाल ही दिलीप साहब का पाकिस्तान वाला पुश्तैनी मकान ढह गया। अब वहां नया मकान बन रहा है। कला और खेल की हर जगह कद्र होती है। उन्हें कोई बांध नहीं सकता। आज की ये सरहदें भी नहीं।