Home गॉसिप

पाकिस्‍तान ने शशि कपूर को बताया- प्राइड ऑफ पेशावर

Published:
SHARE

1/5मोमबत्ती जलाकर दी श्रद्धाजंलि

हिंदी सिनेमा की जान शशि कपूर का सोमवार शाम निधन हो गया। उनके जाने का गम भारत में नहीं बल्कि पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में भी दिखा। मंगलवार को पाकिस्तान के पेशावर में उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। उनके पैतृक घर के बाहर उन्हें श्रद्धांजलि देने के लिए मोमबत्ती जुलूस का आयोजन किया गया। शशि कपूर का पैतृक घर पाकिस्तान के पेशावर शहर के ऐतिहासिक कैसर खवानी बाजार के करीब मौजूद है।

2/5दादा ने बनवाई थी हवेली

Untold Love Story Of Shashi Kapoor And Wife Jennifer kendal

खैबर-पख्तुनख्वा प्रांत के अंदरूनी इलाके धोकी नालबंदी में मौजूद कपूर हवेली का निर्माण कपूर के दादा दीवान बाशेश्वरनाथ सिंह कपूर ने 20वीं शताब्दी के शुरुआती दिनों में करवाया था। सांस्कृतिक विरासत परिषद (सीएचसी) खैबर-पख्तुनख्वा ने हिंदी सिनेमा स्टार शशि कपूर को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस दौरान शश‍ि कपूर को ‘प्राइड ऑफ पेशावर’ भी बताया गया।

ये भी पढ़ें: PICS: नम आंखों से शश‍ि कपूर को अंतिम विदाई, उमड़ा बॉलीवुड

3/5इन स्टार की जड़े भी पाकिस्तान में

shashi-kapoor

इस श्रद्धांजलि समारोह में सिनेमा प्रेमियों सहित कई लोगो ने हिस्सा लिया। बता दें कि कपूर परिवार के अलावा अभिनेता दिलीप कुमार, शाहरुख खान, विनोद खन्ना, अमजद खान और अनिल कपूर की जड़े भी पेशावर से जुड़ी हैं।

4/579 साल की उम्र में हुआ निधन

गौरतलब है कि 4 दिसंबर शाम 5 बजे के करीब शशि कपूर का निधन हो गया था। वह लंबे से बीमार चल रहे थे। 5 दिसंबर की दोपहर उनकी अंतिम यात्रा के बाद राजकीय सम्मान के साथ उनके पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार सांताक्रूज के श्मसान गृह में किया गया।

ये भी पढ़ें: शश‍ि कपूर की फिल्में तो देखी होंगी, लेकिन ये तस्वीरें नहीं!

5/5पृथ्वी थिएटर में रखी गई शोक सभा

शशि कपूर की याद में 7 दिसंबर को पृथ्वी थिएटर में शाम 5-7 बजे शोक सभा रखी गई है। बता दें, शशि साहब के दो बेटे और एक बेटी है। पत्नी जेनिफर का पहले ही निधन हो चुका है।

SHARE