Filmipop

Anxiety और Stress के कारण होती हैं स्किन रिलेटेड अनगिनत परेशानियां, जानें बचने के तरीके

Authored by Puneet Saini | Hindi Filmipop | Updated: 23 Nov 2022, 1:18 pm

अत्यधिक काम के दबाव के कारण आपके बॉडी की जो प्रतिक्रिया होती है उसे ही स्ट्रेस कहते हैं। इसके फिजिकल और Psychological दोनों प्रभाव हो सकते हैं।

 
Anxiety और Stress के कारण होती हैं स्किन रिलेटेड अनगिनत परेशानियां, जानें बचने के तरीके
Anxiety और Stress के कारण होती हैं स्किन रिलेटेड अनगिनत परेशानियां, जानें बचने के तरीके
हमारा हर दिन अत्यधिक व्यस्तता के साथ गुजरता है। प्रोफेशनल्स और पर्सनल परेशानियों के कारण ज्यादातर लोग Stress And Anxiety के शिकार हो जाते हैं। अत्यधिक काम का बोझ और घर में तनाव कभी-कभी हमारे दिल, दिमाग को उलझन में डाल देता है, जिससे हम पर मानसिक दबाव पड़ता है।
हालांकि, स्ट्रेसफुल लाइफ न केवल आपके मेंटल हेल्थ को प्रभावित करता है बल्कि आपकी स्किन पर भी इसका बहुत ही नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। पढ़ कर आश्चर्य जरूर होगा लेकिन यह सच है कि स्ट्रेस और चिंता इंडायरेक्ट रूप से कई Skin Disorders से जुड़ी होती हैं जिन्हें हम अनदेखा कर देते हैं।
स्ट्रेस और स्किन के बीच संबंध:

अत्यधिक काम के दबाव के कारण आपके बॉडी की जो प्रतिक्रिया होती है उसे ही स्ट्रेस कहते हैं। इसके फिजिकल और Psychological दोनों प्रभाव हो सकते हैं। जब आप तनावग्रस्त महसूस करते हैं, इसके जवाब में एक प्रकार का Stress Hormone जिसे कोर्टिसोल कहा जाता है, रिलीज होता है।


Stress And Anxiety का स्किन पर कुछ ऐसा होता है असर

स्ट्रेस के कारण होते हैं मुंहासे

हेल्थलाइन के अनुसार तनाव मुंहासों का मुख्य कारण है। पैनिक अटैक के दौरान बनने वाली कोर्टिसोल ग्रंथि से ऑयल का अतिरिक्त बहाव इसका कारण बनता है, जिसके परिणामस्वरूप मुंहासे निकलते हैं। इसके कारण कुछ लोगों को हल्के मुंहासे की समस्या होती है वहीं कुछ लोगों में पुरानी मुंहासे की समस्या बनी रहती है।

त्वचा पर लाल चकत्ते

कमजोर इम्यूनिटी भी स्ट्रेस के प्रमुख कारणों में से एक है जो स्किन पर चकत्ते को बढ़ाती है। डिस्बिओसिस या आपके पेट और आपकी त्वचा में Microorganisms का Imbalance। यह असंतुलन आपकी त्वचा को लाल बना देता है या यह दाने के रूप में डेवलप हो जाता है।

स्किन का ड्राई होना

आपकी त्वचा की सबसे ऊपरी परत को स्ट्रेटम कॉर्नियम कहा जाता है। इसमें लिपिड और प्रोटीन होते हैं जो आपकी त्वचा की कोशिकाओं में नमी बनाए रखने के लिए आवश्यक होते हैं। आपकी त्वचा में खुजली और रूखापन और कुछ नहीं बल्कि चिंता की एक ट्रिगर प्रतिक्रिया है जो स्ट्रेटम कॉर्नियम को बाधित करती है, जिसके परिणामस्वरूप एक्जिमा जैसी त्वचा परेशानी तक हो सकती है।


तनाव और चिंता के बीच स्किन को ऐसे रखें हेल्दी


त्वचा की अच्छी देखभाल के लिए स्किन केयर रूटीन फॉलो करें

त्वचा की समस्याओं से निपटने के बेहतरीन तरीकों में से एक है स्किन की देखभाल करते रहने के नियमों को पालन करना। अपनी त्वचा को हाइड्रेटेड रखने के लिए मेडिकेटेड फेस वाश, क्लींजर, टोनर और मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

अच्छी डाइट लें, अनहेल्दी जंक फूड से दूरी बनायें

एक अच्छी तरह से संतुलित आहार जिसमें ताजी पत्तेदार सब्जियां और फल शामिल हों लेना बेहद जरूरी है। यदि आप स्ट्रेस से रिलेटेड स्किन प्रॉब्लम से पीड़ित हैं, तो यह बहुत जरूरी है। मीठे फूड्स, अनहेल्दी ड्रिंक्स और जंक या ऑयली फूड को ना कहने की जरूरत है।

अच्छी नींद लें, रोजाना कम से कम 8 घंटे

रोजाना कम से कम 8 घंटे की नींद लेनी जरूरी है। रात को समय पर सोने से ब्लड सर्कुलेशन अच्छी रहती है, कोलेजन के पुनर्निर्माण से लेकर आपकी मांसपेशियों को कसने से आपकी त्वचा को पुनर्जीवित करने में इससे मदद मिलती है।

हर दिन एक्सरसाइज करना जरूरी

अच्छी स्किन बनाए रखने के लिए शारीरिक रूप से सक्रिय रहना भी बेहद महत्वपूर्ण है। जिम जाने, एरोबिक्स करने या योग करने से आपके शरीर में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ सकता है, जिससे आपकी त्वचा हेल्दी और चमकदार बनती है।