Home फोटो गैलरी

पक्की बात! अभय की राय जानने के बाद फेयरनेस क्रीम नहीं लगाओगे

Updated:
SHARE

1/13एक रंग की नहीं है दुनिया

‘गोरे रंग पे ना इतना गुमान ना कर, गोरा रंग दो दिन में ढल जाएगा।’ फिल्म ‘रोटी’ का गाना। मुमताज और राजेश खन्ना का डांस कर रहे हैं। कलम आनंद बख्शी ने दी है। इस गाने को आज लोग सीरियसली नहीं लेते, लेकिन जरूरत है। लोग अपनी त्वचा को गोरा करना चाहते हैं। वह गोरा रंग को पाने के लिए देसी से लेकर विदेशी उपाय अपनाते हैं। हर तरह की क्रीम लगाते हैं, चाहे वो मर्दों वाली हो या फिर औरतों वाली। लेकिन इस गोरा होने की होड़ में लोग ये भूल चुके हैं आखिर गोरा होने की जरूरत क्या है? दरअसल, गोरा होना एक क्लास को दर्शता है। ठीक वैसे ही जैसे अंग्रेजी भाषा का आना। इस बार बॉलीवुड अभिनेता अभय देओल ने फेयरनेस क्रीमों के खोखले वादों और सेलेब्स के इन प्रोड्क्टस को बेचने पर सवाल उठाते हुए उन पर हमला बोला है।

2/13क्या कहना है अभय देओल का-

अभिनेता अभय देओल ने अपने फेसबुक पोस्ट में ऐसे ही फेयरनेस क्रीमों के विज्ञापनों पर सवाल उठाया है। उन्‍होंने लिखा है, ‘ऐसे कई कैंपेन चलाए जा रहे हैं, जो काली या सांवली त्वचा को गोरी करने का दावा कर रहे हैं, लेकिन ये गलत है। वह कहते हैं कि इस बात पर कोई सवाल नहीं उठा रहा है कि ऐसे विज्ञापन दिखाना कितना गलत है।’ अभय ने आगे कहा, ‘आपको गोरे होने की दौड़ में शामिल होना छोड़ना पड़ेगा और अपने रंग से प्यार करना होगा। हर कोई इस बात से शायद राजी न हो, पर इस बात की शुरुआत हम अपने परिवार से कर सकते हैं।’

3/13शर्मनाक है स्टार्स का ऐसा करना

अभय ने बॉलीवुड अभिनेताओं और अभिनेत्रियों के लिए ऐसे प्रोडक्ट्स को प्रमोट करना शर्मनाक बताया है। उन्होंने कहा कि ऐसे कई स्टार्स हैं, जो ऐसे विज्ञापनों को प्रमोट करके लोगों को गुमराह कर रहे हैं। लंबी लिस्ट के साथ इन सभी विज्ञापनों को अभय ने अपने फेसबुक वॉल पर पोस्ट किया है।

4/13शाहरुख खान

5/13दीपिका पादुकोण

6/13ये भी देखिए…

7/13आखिर कब खत्म होगा…

8/13मर्दों वाली क्रीम…

9/13एक और बेतुका विज्ञापन!

10/13हद ही है…

11/13अपनी वास्तविकता से प्यार करो…

12/13गोरापन नाप भी सकते हैं…

13/13आप सुंदर हैं…

प्रेमचंद ने कहा था कि सुंदरता के मायने जानने होंगे। जिसका रंग सांवला है, वो भी किसी के लिए सुंदर हो सकता है। गोरा-काला कुछ नहीं है। असली रंग तो सीरत का है।

SHARE