Home टेलीविजन

टीवी कलाकारों से भूखे-प्यासे करवाया जाता था काम, शो छोड़ा

Published:
SHARE

1/7ग्लैमरस दुनिया के पीछे की दास्तान

aisi-deewangi

टीवी और सिनेमा। चमकती लाइटें, चमकते चेहरे, सब कुछ बहुत अच्छा-अच्छा। खुश दिखते लोग। पर इस ग्लैमरस दुनिया को ऐसा बनाने के लिए बहुत कुछ कुर्बान करना पड़ता है। शोषण की एक दास्तान हैं जो अाज हम कहने जा रहे हैं। हमारे सहयोगी ‘बॉम्बे टाइम्स’ के अनुसार, टीवी सीरियल ‘ऐसी दीवानगी…देखी नहीं कहीं’ के लीड एक्‍टर्स ने शो के प्रोड्यूसर्स पर अमानवीय व्यवहार का आरोप लगाया है।

2/718-20 घंटों तक करवाया जाता था काम

pranav-mishra

शो के लीड एक्‍टर्स प्रणव मिश्रा और ज्योति शर्मा ने शो को अलविदा कह दिया है। एक्टर्स ने आरोप लगाया है कि उनसे 18-20 घंटों तक काम करवाया जाता था।

3/7बिना खाना खाए, पानी पिए करते रहते थे काम

A post shared by Pranav Misshra (@pranavmisshra) on

प्रणव और ज्योति ने ये भी आरोप लगाया है कि प्रोड्यूसर्स उनसे भूखे-प्यासे काम करवाते थे। बीमारी की हालत में भी वो काम करने के लिए मजबूर करते थे।

4/7जानवरों से भी बदतर किया जाता था व्यवहार

प्रणव ने बताया, ‘हमारे साथ जानवरों से भी बदतर व्यवहार किया जाता था। दिशा-निर्देशों के मुताबिक, दो शिफ्टों के बीच 12 घंटे का ब्रेक होना जरूरी है। जबकि मैं दावे के साथ कह सकता हूं कि पिछले 250 दिनों में हमने 5 घंटे के अंदर सेट पर वापसी की है।’

5/7‘डिप्रेशन में हैं हम दोनों’

aisi-deewwngi

प्रणव के मुताबिक, ‘मैंने और ज्योति ने CINTAA (सिने और टीवी आर्टिस्ट्स एसोसिएशन) के आदेशों के तहत तनाव परीक्षण करवाया है। इसकी रिपोर्ट के मुताबिक, हम तनाव, चिंता और निराशा से पीड़ित हैं।’

6/7बिना सुरक्षा के करवाते थे स्टंट

jyoti sharma

ज्योति ने ये भी आरोप लगाया कि बिना किसी सुरक्षा के स्टंट करवाए जाते थे। एक दफा ऐसे ही स्टंट करते हुए उनकी पीठ पर चोट भी लग गई थी। इतना ही नहीं, एक बार कमरे में आग लगाई गई थी। धुआं था। सीन शूट हो रहा था। इसके कारण ज्योति की आवाज चली गई थी। चार-पांच दिनों तक डॉक्टर्स ने उन्हें आराम करने की सलाह दी थी। पर उन्हें अगले दिन ही शूट पर आना पड़ा।

7/7जल्द हो सकती है कार्रवाई

jyoti sharma

CINTAA के महासचिव सुशांत सिंह मामले में ज्योति और प्रणव का पक्ष सुन चुके हैं। उनका कहना है कि अब वह प्रोड्यूसर्स की बात सुनकर जरूरी कदम उठाएंगे। इंटरव्यू में सुशांत सिंह ने कहा, ‘हमें प्रोडक्शन हाउस के साथ उनका कॉन्ट्रेक्ट देखा और ये बंधुआ मजदूरों से कम नहीं है।’ जल्द ही प्रोड्यूसर्स पर इसको लेकर कार्रवाई की जाएगी।