Filmipop

Republic Day 2023: गणतंत्र दिवस पर जरूर देख‍िए देशभक्‍त‍ि में डूबीं ये 5 फिल्‍में, रग-रग में दौड़ेगा हिंदुस्‍तान

Edited by जैसमिन | Hindi Filmipop | Updated: 23 Jan 2023, 6:47 pm

देश गुरुवार को 73वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र की आत्‍मा विविधता में एकता है। 26 जनवरी 2023 के जश्‍न में डूबने से पहले हर हिंदुस्‍तानी को ये 5 फिल्‍में जरूर देखनी चाहिए। ये वो फिल्‍में हैं, जो सिर्फ देशभक्‍त‍ि की ही बात नहीं करतीं, जिंदगी जीने का नजरिया भी देती हैं।

 
गणतंत्र दिवस पर जरूर देख‍िए देशभक्‍त‍ि में डूबीं ये 5 फिल्‍में, रग-रग में दौड़ेगा हिंदुस्‍तान
गणतंत्र दिवस पर जरूर देख‍िए देशभक्‍त‍ि में डूबीं ये 5 फिल्‍में, रग-रग में दौड़ेगा हिंदुस्‍तान
देशभक्‍ति क्‍या होती है? देश के लिए जीना क्‍या होता है? यह दो ऐसे सवाल हैं, जो हर हिंदुस्‍तानी को खुद से पूछने की जरूरत है। हम गुरुवार, 26 जनवरी 2023 को गणतंत्र का 73वां दिवस मना रहे हैं। यह वो दिन है, जब दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र ने खुद के संविधान को अंगीकार किया था। वो संव‍िधान जो हमारे देश की, हमारे जनतंत्र की आत्‍मा है। आज देशभक्‍त‍ि के मायने बदल रहे हैं। हम शायद यह भूल रहे हैं‍ कि देश की आत्‍मा विविधता में एकता है। संप्रभुता हमारी पहचान है। देशभक्‍त‍ि पर वैसे तो कई फिल्‍में बनी हैं, लेकिन हम यहां 5 ऐसी फिल्‍मों की बात कर रहे हैं, जो हर इंडियन को देखनी चाहिए। इन फिल्‍मों को सिर्फ देखने के लिए ही नहीं, बल्‍क‍ि सीखने के लिए और समझने के लिए देख‍िएगा।

बॉर्डर (1997)

जेपी दत्ता की यह फिल्‍म देश के जान न्‍योछावर करने की ही कहानी है। यह फिल्‍म भारतीय सेना को राष्ट्र की सुरक्षा करने में आने वाली कठिनाइयों पर भी ध्यान खींचती है। सनी देओल, सुनील शेट्टी, अक्षय खन्ना और जैकी श्रॉफ फिल्‍म में प्रमुख भूमिकाओं में है। फिल्‍म में जवानों की जिंदगी से जुड़ी कई कहानियां दिखाई गई हैं। कोई शादी के अगले ही दिन देश के लिए मर मिटने पर चल पड़ता है तो कोई घर के आंगन में अपनी मां को अकेली छोड़कर आया है। यह फिल्‍म हमें कर्म के लिए त्‍याग और बलिदान देने के लिए भी प्रेरित करती है।

स्वदेस (2004)

दुनिया शहर की तरफ भाग रही है। आशुतोष गोवारिकर की यह फिल्‍म गांव लौटने और अपने लोगों के लिए कुछ करने की चाह जगाती है। नासा का एक वैज्ञानिक घर लौटता है। गांव के लोगों की जिंदगी में रोशनी लेकर आता है। शाहरुख खान ने इस फिल्‍म में बेहतरीन काम किया है। देशभक्‍त‍ि का मतलब सिर्फ देश के लिए जान देना नहीं है, देशवासियों के काम आना भी है। यह फिल्‍म यही सीख देती है।

रंग दे बसंती (2006)

'जिंदगी जीने के दो तरीके हैं- एक, जो हो रहा है होने दो। दूसरा, जिम्‍मेदारी उठाओ उसे बदलने की।' साल 2006 में आई आमिर खान की फिल्‍म 'रंग दे बसंती' बदलाव की बात करती है। कितना आसान होता है हाथ पर हाथ धड़े बैठे रहना, जो हो रहा है उसे होने देना। लेकिन अगर आप सच्‍चे देशभक्‍त हैं, तो सबसे पहले जिम्‍मेदारी उठाने की जरूरत है। राकेश ओमप्रकाश मेहरा के डायरेक्‍शन में बनी य‍ह एक जबरदस्‍त फिल्‍म है, जो खास तौर पर युवाओं पर केंद्रित है। फिल्‍म में अतुल कुलकर्णी, सोहा अली खान, शरमन जोशी और कुणाल कपूर जैसे एक्‍टर्स भी हैं।

राज़ी (2018)

'राज़ी' न सिर्फ देशभक्‍त‍ि फिल्‍मों के मामले में बेहतरीन है। बल्‍क‍ि यह आलिया भट्ट के करियर की भी सबसे बेहतरीन फिल्‍मों में से है। साल 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध से पहले का प्‍लॉट है। आलिया भट्ट इस फिल्‍म में एक अंडरकवर रॉ जासूस का किरदार निभा रही हैं। मेघना गुलजार के डायरेक्‍शन में बनी इस फिल्‍म में विक्की कौशल भी हैं।

शेरशाह (2021)

डायरेक्‍टर विष्णुवर्धन की फिल्‍म 'शेरशाह' पिछले कुछ साल में आई तमाम देशभक्‍त‍ि फिल्‍मों में सबसे बेहतरीन है। यह फिल्‍म कारगिल युद्ध के हीरो कैप्‍टन विक्रम बत्रा की ऐसी कहानी कहती है, जिसे देखकर रोंगटे खड़े हो जाते हैं। भारत मां का ऐसा बेटा, जिसके नाम से पाकिस्‍तानी सेना थर्राती थी। फिल्‍म में सिद्धार्थ मल्‍होत्रा के साथ कियारा आडवाणी लीड रोल में हैं।