Filmipop

Akshay Kumar: राजीव भाटिया ने अपना नाम बदलकर अक्षय कुमार क्‍यों कर लिया? पासपोर्ट के पीछे की दिलचस्‍प कहानी

Compiled by स्‍वपनल सोनल | Hindi Filmipop | Updated: 24 Nov 2022, 3:43 pm

अक्षय कुमार को सोशल मीडिया पर अक्‍सर कनाडा कुमार कहकर ट्रोल किया जाता है। उनके पास इंडियन पासपोर्ट यानी भारतीय नागरिकता क्‍यों नहीं है, इसको लेकर सवाल उठाया जाता है। और तो और कुछ लोग यह भी जानना चाहते हैं कि आख‍िर राजीव हरि ओम भाटिया ने अपना नाम बदलकर अक्षय कुमार क्‍यों रख लिया। यहां जानिए पूरी कहानी।

 
राजीव हरि ओम भाटिया ने अपना नाम क्‍यों बदला? अक्षय कुमार के पास क्‍यों नहीं है इंडियन पासपोर्ट, जानिए पूरी बात
राजीव हरि ओम भाटिया ने अपना नाम क्‍यों बदला? अक्षय कुमार के पास क्‍यों नहीं है इंडियन पासपोर्ट, जानिए पूरी बात
अक्षय कुमार के सितारे इन दिनों गर्दिश में कहे जा सकते हैं। साल 2022 में रिलीज उनकी चार फिल्‍में बुरी तरह फ्लॉप हो चुकी हैं। 'भूल भुलैया 2' के बाद उनसे अब 'हेरा फेरी 3', 'आवारा पागल दीवाना 2' और 'वेलकम 3' भी छ‍िन चुकी है। सोशल मीडिया पर वह सांस भी लेते हैं तो ट्रोल होने लगते हैं। अक्षय कुमार की आलोचना करने वाले अक्‍सर उनकी नागरिकता पर सवाल उठाते हैं। पूछते हैं कि आख‍िर उन्‍होंने अभी तक भारतीय नागरिकता क्‍यों नहीं ली। और तो और अक्षय के बारे में इंटरनेट पर सबसे ज्‍यादा पूछा गया एक सवाल ये भी है कि उन्‍होंने आख‍िर अपना नाम क्‍यों बदला, क्‍यों वो राजीव भाटिया से अक्षय कुमार बन गए।
Akshay Kumar ने अपने नाम बदलने से जुड़ा दिचस्‍प किस्‍सा 2017 में सुनाया था। वह तब अपनी फिल्‍म 'नाम शबाना' का प्रमोशन कर रहे थे। इसी दौरान एक इवेंट में उनसे पूछा गया कि आपने अपना नाम Rajiv Hari Om Bhatia से बदलकर अक्षय कुमार क्यों रखा? तब अक्षय ने इसके पीछे की पूरी कहानी बताई। वैसे, पहले ही बता दें कि उनके नाम बदलने के पीछे कोई ज्योतिष कारण नहीं है। बल्‍क‍ि उनके नाम बदलने के पीछे एक्‍टर कुमार गौरव के साथ जुड़ा एक दिलचस्प किस्सा है।
इसलिए बदला अक्षय कुमार ने नाम
अक्षय कुमार ने तब कहा था, 'यह सवाल पहली बार किसी ने मुझसे पूछा है। मेरी पहली फिल्म 'आज' साल 1987 में आई थी। इसके डायरेक्टर महेश भट्ट थे और लीड एक्टर कुमार गौरव। इस फिल्‍म में कुमार गौरव के किरदार का नाम अक्षय था। फिल्म में मेरा रोल बहुत छोटा था। मैं सिर्फ कुमार गौरव और उनकी एक्‍ट‍िंग के अंदाज को ऑब्जर्व कर रहा था। पता नहीं क्या हुआ, लेकिन एक दिन मैं कोर्ट गया और अपना नाम बदला लिया।'

छपवा लिए थे विजिटिंग कार्ड
एक्‍टर ने आगे बताया, 'मुझे नहीं पता कि मैंने अपना नाम क्यों बदला... मैं बस बांद्रा ईस्ट कोर्ट गया और नाम बदलवा लिया। मैं कुछ भी नहीं था उस टाइम पर, फिर भी मैंने विजिटिंग कार्ड बनवाए। उस पर अपना नाम अक्षय कुमार लिखवाया। इसके बाद मैं काम की तलाश में निकला और समय मेरे साथ था। मुझे इसके बाद फिल्म मिल गई।'

Akshay Kumar: राजीव भाटिया ने अपना नाम बदलकर अक्षय कुमार क्‍यों कर लिया? पासपोर्ट के पीछे की दिलचस्‍प कहानी

अक्षय कुमार


अक्षय के पास क्‍यों नहीं है Indian Passport
सोशल मीडिया पर अक्षय कुमार को आए दिन 'कनाडा कुमार' कहकर ट्रोल किया जाता है। ट्रोल्‍स उनकी कनाडा की नागर‍िकता पर सवाल उठाते हैं। तीन साल पहले 2019 में अक्षय कुमार ने एक इवेंट में कहा था कि वह जल्‍द इंडियन पासपोर्ट के लिए अप्‍लाई करेंगे। अब हाल ही उसी इवेंट एचटी लीडरश‍िप समिट में उन्‍होंने इस मामले में अपडेट दिया। उनसे पूछा गया कि उनका भारतीय पासपोर्ट बना है या नहीं? अक्षय ने इस पर कहा, 'कनाडाई पासपोर्ट होने का मतलब यह नहीं है कि मैं किसी भारतीय से कम हूं। मैं बहुत से लोगों से कहीं ज्‍यादा इंडियन हूं। मैं इसके कारणों में नहीं जाना चाहता कि क्‍या हुआ, नहीं हुआ। लेकिन यह जरूर कहूंगा कि मेरा इंडियन पासपोर्ट जल्‍द बन जाएगा।'

साल 2011 में Akshay Kumar को मिली कनाडा की Citizenship
अक्षय कुमार ने आगे बताया, 'मैंने 2019 में पासपोर्ट के लिए अप्‍लाई किया था। फिर कोरोना महामारी आ गई। दो-ढ़ाई साल सबकुछ बंद रहा। इस कारण मेरा आवेदन रेनॉउंस हो गया। मुझे रेनॉउंस का लेटर भी मिल चुका है। मैं क्‍या करूं। मैं थोड़े ना महामारी लेकर आया। लेकिन हां, अब बहुत जल्‍द मेरा इंडियन पासपोर्ट आ जाएगा।' अक्षय कुमार का बचपन पुरानी दिल्‍ली की गलियों में बीता है। साल 2011 के आसपास कनाडाई फेडरल चुनाव के बाद कनाडा सरकार ने अक्षय कुमार को अपने देश की नागरिकता दी थी।