Filmipop

PCOS में इन चीजों को बनाएं अपनी डाइट का हिस्‍सा, बहुत जल्‍दी सही होगी बीमारी

Authored by Puneet Saini | Hindi Filmipop | Updated: 5 Dec 2022, 2:04 pm

PCOS के इलाज में डाइट एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। ऐसे कई खाद्य पदार्थ है, जो आपके मूड व स्वास्थ्य को अच्छा और खराब भी कर सकते हैं। इसलिए ये जानना जरूरी है कि PCOS के लक्षणों को दूर करने के लिए आपको क्‍या खाना चाहिए।

 
PCOS में इन चीजों को बनाएं अपनी डाइट का हिस्‍सा, बहुत जल्‍दी सही होगी बीमारी
PCOS में इन चीजों को बनाएं अपनी डाइट का हिस्‍सा, बहुत जल्‍दी सही होगी बीमारी
पॉलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम PCOS एक ऐसी समस्या है, जिसमें महिलाओं के हार्मोन असंतुलित हो जाते हैं। भारत में हर 10 में से 1 महिला इससे पीड़ित है। इससे न केवल पीरियड्स अनियमित हो जाते हैं, बल्कि प्रेग्नेंसी में भी बहुत दिक्कत आती है। अगर समय रहते इसका इलाज न हो, तो यह डायबिटीज और हृदय स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं को भी जन्म दे सकता है।
दरअसल, PCOS से ग्रसित ज्यादातर महिलाओं की ओवरी में छोटी-छोटी सिस्‍ट बन जाती हैं, इसलिए इसे पॉलिसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम कहा जाता है।

हालांकि महिलाएं इसका इलाज कराती हैं, लेकिन अपने खाने के तरीकों को बदलने से भी इसके लक्षणों को ढंग से मैनेज किया जा सकता है। क्योंकि आहार बॉडी के हार्मोनल सिस्‍टम को बनाए रखने में मदद करता है। PCOS से राहत पाने के लिए यहां कुछ खाद्य पदार्थों के बारे में बताया गया है, जिन्‍हें हर पीड़ित महिला को अपने आहार में शामिल करना चाहिए।
हरी सब्जियां खाएं-
PCOS से जल्दी रिकवरी पाने के लिए महिलाओं को हरी सब्जियों जैसे पालक, मेथी का सेवन बढ़ाना चाहिए। पालक में फाइटोकेमिकल्स, विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो PCOS के कारण चेहरे पर होने वाले मुंहासों को रोकने में मदद करते हैं। साथ ही इनमें पानी और फाइबर की मात्रा भी पर्याप्त होती है, जिसके चलते यह चीनी के अवशोषण को धीमा कर ब्‍लड शुगर लेवल को स्थिर बनाए रखता है।

प्रोटीन को शामिल करें-

आहार में अंडे, दाल, भीगे हुए मेवे और बीज को शामिल करने से शरीर में प्रोटीन की कमी पूरी होती है। बता दें कि PCOS की समस्या हार्मोन के असंतुलित होने से ही होती है। ऐसे में प्रोटीन शरीर में हार्मोन बनाने के लिए जरूरी है।

आहार में शामिल करें विटामिन डी-

विटामिन डी के सेवन से हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूती मिलती है। इसलिए PCOS में इसका सेवन जरूरी माना गया है। अंडे, दूध और दही में विटामिन डी भरपूर मात्रा में होता है। शरीर में विटामिन डी को बढ़ावा देने के लिए आप धूप में भी बैठ सकती हैं।

लीन प्रोटीन लें-

PCOS से राहत के लिए ब्लड शुगर को स्थिर रखना जरूरी है। इसके लिए लीन प्रोटीन को अपनी डाइट का हिस्सा बनाएं। चिकन, मछली और अंडे की सफेदी लीन प्रोटीन का बेहतरीन स्त्रोत है। कहने को इसमें फाइबर बहुत ज्यादा मात्रा में नहीं होता, लेकिन यह आपको लंबे समय तक भरा हुआ रखते हुए ब्लड शुगर को स्थिर रखने में हेल्प करता है।

फाइबर से भरपूर आहार लें-

महिलाएं अपने आहार में जितना ज्‍यादा फाइबर लेंगी, उन्‍हें ठीक होने में उतना कम समय लगेगा। PCOS में ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए, जो पाचन प्रक्रिया को धीमा कर ब्‍लड शुगर लेवल को अचानक बढ़ने से रोकते हैं। लाल और हरी मिर्च, फूलगोभी, ब्रोकोली और शकरकंद में फाइबर पर्याप्‍त मात्रा में होता है, इसलिए रिकवरी टाइम में इनका सेवन ज्‍यादा करें।

लो कार्ब हाई फैट डाइट-

PCOS से जूझ रही महिलाएं अगर लो कार्ब हाई फैट डाइट लेंगी, तो वह जल्दी ठीक हो सकती हैं। आहार में नट और बीज जैसे अखरोट, बादाम और अलसी का सेवन करें। इसमें फैट बहुत संतुलित मात्रा में होता है। इसके अलावा यह टेस्टोस्टेरोन लेवल को कम करके महिलाओं के गड़बड़ हो रहे हार्मोन को नियंत्रित करता है। हाई क्वालिटी फैट के लिए देसी घी, एवोकैडो और मक्खन का सेवन बहुत अच्छा है।