Home मूवी रिव्यू

Mirza Juuliet Review: एक अल्‍हड़ लड़की की प्रेम कहानी

Updated:
SHARE
Mirza Juuliet Movie Review in Hindi

मिर्जा जूलियट

रेटिंग:

2/5

कास्‍ट:

दर्शन कुमार, पिया बाजपेयी, चंदन रॉय सान्‍याल, प्रियांशु चटर्जी

डायरेक्‍टर:

राजेश राम सिंह

समय:

2 घंटे 05 मिनट

जॉनर:

रोमांस

लैंग्‍वेज:

हिंदी

समीक्षक:

रेजा नूरानी (टीओआई)

1/4कहानी

दो प्रेमी। ढेर सारा प्‍यार। जंग। नफरत। जातिगत तनाव। राजनीति। इन सब की कहानी कहती है ‘मिर्जा जूलियट’।

2/4समीक्षा

Mirza Juuliet Movie Review in Hindi

पंजाबी झटकदार कुर्ती और उस पर भद्दे स्‍नीकर्स के जूते। ये जूलियट शुक्‍ला (पिया बाजपेयी) है। यूपी के मिर्जापुर की रहने वाली है। हर बात में उंगली करने की आदत है इसे। बचपन के दोस्‍त मिर्जा (दर्शन कुमार) से लेकर बस कंडक्‍टर तक हर किसी पर धौंस जमाती है। जूलियट शहर के कुख्‍यात बदमाश धर्मराज (प्रियांशु चटर्जी) की बहन है। वह उसकी शादी एक दूसरे ताकतवर राजनेता राजन पांडे (चंदन रॉय सान्‍याल) के बेटे से करवना चाहता है।

3/4दिखती है दूसरी फिल्‍मों की छाप

Mirza Juuliet Movie Review in Hindi

मिर्जा शहर का सबसे बड़ा हिटमैन है। पैसे के लिए लोगों को मारता है। जूलियट से बिल्‍कुल अलग है। यह शांत और थोड़ा गंभीर किस्‍म का है। एक नजर में ही ‘मिर्जा जूलियट’ एक सटीक फॉमूर्ले पर बनी फिल्‍म की तरह लगती है। इसमें आपको छोटे शहरों पर बनी दूसरी फिल्‍मों की छाप दिखती है। फिल्‍म में ‘गैंग्‍स ऑफ वोसुपर’ जैसा ही एक पीछा करने वाला सीन भी है। इसमें छोटे शहरों में महिलाओं की खराब स्‍थि‍ति को भी दिखाया गया है।

4/4किसने कैसा काम किया है

Mirza Juuliet Movie Review in Hindi

पिया बाजपेयी जबरदस्‍त लगी हैं। लेकिन उनका कैरेक्‍टर बहुत ही एग्रेसिव और लाउड है। आप उनसे कनेक्‍ट नहीं कर पाते हैं। दर्शन कुमार ने एक हिटमैन के तौर पर अच्‍छा काम किया है। हालांकि, फिल्‍म में जिस तरह उनका कैरेक्‍टर डवलप हुआ है, यह थोड़ा अविश्‍वसनीय लगता है। सपोर्टिंग रोल में चंदन रॉय सान्‍याल हंसाते हैं। प्रियांशु चटर्जी बड़े पर्दे पर अब तक दिखाए गए बदमाशों के आका का ही प्रतिरूप लगे हैं।

‘मिर्जा जूलियट’ यकीनन बड़े पर्दे पर एक दुखांत प्रेम कहानी गढ़ने कोशि‍श है, लेकिन अफसोस कि यह त्रासदी साबित होती है।

SHARE